टैरा हर्ट्ज़ विकिरण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

विद्युतचुंबकीय तरंगें जिनकी आवृत्ति टैरा हर्ट्ज़ (१० पर १२ घात) के कोटि (order) की होती हैं, उन्हें टेरा हर्ट्ज़ विकिरण या टी तरंगें, टैरा हर्ट्ज़ तरंग या प्रकाश, टी-प्रकाश, टी-लक्स आदि कहा जाता है। इनकी आवृत्ति 300 gigahertz (3x1011 हर्ट्ज़) से 3 टैरा हर्ट्ज़ (3x1012 Hz), के मध्य होती है; तदनुसार इनकी तरंग दैर्घ्य 1 मिलिमीटर (सूक्ष्म तरंग पट्टी का उच्चावृत्ति सिरा) एवं 100 माइक्रोमीटर (सुदूर अधोरक्त प्रकाश का तरंग दैर्घ्य सिरा) के बीच होता है।

Plot of the zenith atmospheric transmission on the summit of Mauna Kea throughout the range of 1 to 3 THz of the electromagnetic spectrum at a precipitable water vapor level of 0.001 mm. (simulated)

उपयोग[संपादित करें]

  • इनका उपयोग करके ऐसे कैमरे बनाये जा सकते हैं जो २५ मीटर की दूरी से ही शरीर के भीतर छिपाकर रखे गये हथियारों एवं विस्फोटकों आदि का पता लगा सकते हैं (थ्रू-विजन कैमरा) किन्तु इससे शरीर की बनावट नहीं दिखेगी।
  • टी-रे तकनालाजी का इस्तेमाल खगोलशास्त्री टूटते सितारों के अध्ययन के लिए काम में लाते हैं।
  • ये किरणें कपड़े, काग़ज, चीनी मिट्टी और लकड़ी को भेद कर उसके नीचे देख सकती हैं लेकिन धातु और जल के आरपार नहीं देख पातीं।
  • एक्स-किरणों से जो ख़तरनाक रेडियोधर्मी किरणें निकलती हैं; टी-किरणें उसके मुक़ाबले कहीं अधिक सुरक्षित है।
रेडियो वर्णक्रम
अत्यधिक निम्न आवृत्ति (ELF) परम निम्न आवृत्ति (SLF) अत्यन्त निम्न आवृत्ति (ULF) अति निम्न आवृत्ति (VLF) निम्न आवृत्ति (LF) मध्यम आवृत्ति (MF) उच्चावृत्ति (HF) अत्योच्चावृत्ति (VHF) अत्यन्त उच्चावृत्ति (UHF) परम उच्चावृत्ति (SHF) अत्यधिक उच्चावृत्ति (EHF)
3 Hz 30 Hz 300 Hz 3 किलो हर्ट्ज़ 30 किलो हर्ट्ज़ 300 किलो हर्ट्ज़ 3 मैगा हर्ट्ज़ 30 मैगा हर्ट्ज़ 300 मैगा हर्ट्ज़ 3 गीगा हर्ट्ज़ 30 गीगा हर्ट्ज़
30 Hz 300 Hz 3 किलो हर्ट्ज़ 30 किलो हर्ट्ज़ 300 किलो हर्ट्ज़ 3 मैगा हर्ट्ज़ 30 मैगा हर्ट्ज़ 300 मैगा हर्ट्ज़ 3 गीगा हर्ट्ज़ 30 गीगा हर्ट्ज़ 300 गीगा हर्ट्ज़