चिल्का

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

चिल्का अथवा चल्का एक जाट गौत्र है जो राजस्थान, भारत के जयपुर, सीकर और झुन्झुनू जिलों में पाये जाते हैं। 'चल्का' एक राजस्थानी भाषा का शब्द है जिसका अर्थ 'चमकना' है। ऐसा माना जाता है कि ये लोग रंग में थोड़े चमकीले चेहरे वाले होते थे। अतः ये लोग राजस्थान में चिल्का के रूप में जाने जाते हैं।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. डॉ॰ महेन्द्र सिंह आर्य, धर्मपाल सिंह डूडी, किशन सिंह फौजदार & विजेन्द्र सिंह नरवर: आधुनिक जाट इतिहास, आगरा 1998 (पृष्ठ 243)