चित्र (पोर्ट्रेट)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
रेम्ब्रांट पेले द्वारा थॉमस जेफरसन का पोर्ट्रेट, 1805 न्यूयॉर्क हिस्टोरिकल सोसायटी.
एक युवा लड़के के अंतिम संस्कार का रोमन-मिस्र चित्र
मोचे सिरेमिक पोर्ट्रेट. लार्को म्यूज़ियम संग्रहण.लीमा-पेरू

चित्र (पोर्ट्रेट) एक व्यक्ति की पेंटिंग, छवि, मूर्ति, या अन्य कलात्मक अभिव्यक्ति होती है, जिसमें चेहरा और उसकी अभिव्यक्ति प्रमुख होती है. आशय, व्यक्ति के रूप, व्यक्तित्व, और यहां तक कि उसकी मनोदशा को भी प्रदर्शित करना होता है. इस कारण से, फोटोग्राफी में एक चित्र आम तौर पर स्नैपशॉट नहीं होता है, बल्कि किसी व्यक्ति की एक स्थिर स्थिति में एक प्रकृतिस्थ छवि होती है. एक चित्र में अक्सर किसी व्यक्ति को चित्रकार या फोटोग्राफर की ओर सीधे देखते हुए दर्शाया जाता है, ताकि विषय (वह व्यक्ति) को सर्वाधिक सफलतापूर्वक दर्शक के साथ संलग्न किया जा सके.

इतिहास[संपादित करें]

कुछ ऐसे लोगों के बचे हुए सबसे आरंभिक चित्र जो राजा या सम्राट नहीं थे, वे अंतिम संस्कार के चित्र हैं जो मिस्र के फायुम जिले की शुष्क जलवायु में बचे रहे. फ्रेस्को के अलावा, शास्त्रीय दुनिया के यही लगभग एकमात्र चित्र हैं जो बचे हुए हैं, हालांकि कई मूर्तियां बची हैं और सिक्कों पर तस्वीरें बनी हैं.

पोट्रेट की कला प्राचीन ग्रीक में फली-फूली और विशेष रूप से रोमन मूर्तिकला, जहां बनवाने वालों ने व्यक्तिगत और यथार्थवादी पोर्ट्रेट की मांग की, यहां तक कि चेहरे की कमियों को बिना छुपाए हुए भी. चौथी शताब्दी के दौरान, पोर्ट्रेट का झुकाव उस व्यक्ति को ऐसे आदर्श प्रतीक के समान दिखाने की ओर हो गया जिससे उस व्यक्ति की समानता होती है. (रोमन सम्राट कौन्स्टेनटीन I और थिओडोसिअस I की उनकी प्रविष्टियों में तुलना करें.) प्रारंभिक मध्य युगीन यूरोप में व्यक्तियों का प्रस्तुतीकरण ज्यादातर सामान्यीकृत है. व्यक्तियों के बाह्य स्वरूप का वास्तविक चित्रण मध्य युग के उत्तरार्ध में पुनः उभरा, कब्र स्मारकों में, दाता चित्रों में, उज्वल पांडुलिपि में लघु-चित्रों में और फिर पैनल पेंटिंग में.

पेरू की मोचे संस्कृति उन चंद प्राचीन सभ्यताओं में से एक थी जिसने पोर्ट्रेट निर्माण किया. इन चित्रों में शारीरिक विशेषताओं को अत्यंत बारीकी से दर्शाया गया है. चित्रित व्यक्तियों को बिना किसी अन्य प्रतीक या उनके नाम के लिखित सन्दर्भ के बिना ही पहचाना जा सकता है. चित्रित व्यक्ति सत्तारूढ़ कुलीन वंश, पुजारियों, योद्धा समुदाय के सदस्य थे और यहां तक कि प्रतिष्ठित कारीगर भी थे. [1]

उन्हें उनके जीवन के कई चरणों के दौरान दर्शाया गया है. देवताओं के चेहरों को भी अंकित किया गया है. आज की तारीख तक, महिलाओं का कोई चित्र नहीं मिला है. मुकुट, केश-सज्जा, शारीरिक अलंकरण और चेहरे के रंग के विवरण को दर्शाने में विशेष जोर दिया गया है.

पश्चिमी दुनिया का एक सर्वश्रेष्ठ ज्ञात चित्र है लियोनार्डो दा विंसी द्वारा मोना लिसा नामक चित्र, जो एक अज्ञात महिला का चित्र है. विश्व का प्राचीनतम ज्ञात चित्र 2006 में अन्गोलेमे के नज़दीक विल्होनिओर गुफा में पाया गया और इसे 27000 वर्ष पुराना माना जा रहा है. [2]

आत्म-चित्रांकन[संपादित करें]

विन्सेन्ट वान गाग द्वारा आत्म-चित्रण.

जब कलाकार खुद अपना चित्र बनाता है तो उसे आत्म-चित्रांकन कहते हैं. पहचाने जाने योग्य उदाहरण मध्य युग में अनेक हैं, लेकिन अगर परिभाषा को विस्तार दिया जाता है तो पहला था मिस्र के फैरोह अखेनातेन की मूर्ति बक द्वारा, जिसने खुद का और अपनी पत्नी तहेरी का अंकन किया, लगभग 1365 ई.पू.. हालांकि, यह संभावना है कि आत्म-चित्रांकन प्रारम्भिक प्रस्तुतीकरण कला से जुड़े हैं, और साहित्य में कई शास्त्रीय उदाहरण दर्ज हैं, जो अब खो गए हैं.

पोर्ट्रेट फोटोग्राफी[संपादित करें]

पोर्ट्रेट फोटोग्राफी , दुनिया भर में एक लोकप्रिय वाणिज्यिक उद्योग है. कई लोग घरों में टांगने के लिए, पेशेवर रूप से बनवाए हुए पारिवारिक पोर्ट्रेट को पसंद करते हैं, या किसी विशेष घटना की याद में ख़ास पोर्ट्रेट बनवाते हैं, जैसे कि स्नातक करना या शादियों की.

मैथ्यू ब्रैडी द्वारा थॉमस दिल्वार्ड की पोर्ट्रेट तस्वीर.

फोटोग्राफी की शुरुआत से, लोगों ने पोर्ट्रेट बनाए हैं. 19वीं सदी के मध्य में डगेराटाइप की लोकप्रियता, काफी हद तक सस्ते पोर्ट्रेट की मांग की वजह से थी. दुनिया भर के शहरों में स्टूडियो पनपने लगे, जिनमें से कुछ प्रतिदिन 500 से ज्यादा प्लेटें निकाल रहे थे. इन आरम्भिक कामों की शैली में तकनीकी चुनौतियां परिलक्षित थीं जो 30 सेकंड के एक्स्पोसर समय और उस वक्त के चित्र सौन्दर्य से सम्बंधित थी. विषयों को आमतौर पर सादे पृष्ठभूमि के सामने बैठाया जाता था और सर के ऊपर एक हल्की रौशनी की जाती थी और इसके अलावा जो कुछ भी दर्पण से प्रतिबिंबित हो सकता था.

फोटो तकनीक के विकसित होने के साथ, फोटोग्राफरों के एक निडर समूह ने अपनी प्रतिभा को स्टूडियो से बाहर निकाला और इसे युद्ध के मैदान, समुद्रों के पार और दूरदराज के जंगलों में ले गए. विलियम शू का डगेराटाइप सैलून, रोजर फेंटन की फोटोग्राफिक वैन और मैथ्यू ब्रैडी की व्हाट इज इट? वैगन ने मैदान में पोट्रेट और अन्य तस्वीरें बनाने के लिए मानकों को निर्धारित किया.

राजनीति[संपादित करें]

त्यानआनमेन स्क्वायर में लटकता माओत्से तुंग का विशाल चित्र राजनीतिक चित्रांकन का एक प्रसिद्ध उदाहरण है.

राजनीति में नेता के चित्रों को अक्सर राज्य के प्रतीक के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. अधिकांश देशों में यह एक आम प्रोटोकॉल है कि महत्वपूर्ण सरकारी इमारतों में राज्य के प्रमुख का चित्र प्रदर्शित होना चाहिए. किसी नेता के चित्र का अत्यधिक उपयोग, जैसा कि जोसेफ स्टालिन, एडॉल्फ हिटलर या माओत्से तुंग के मामले में देखा जा सकता है, व्यक्तित्व पंथ का संकेत हो सकता है.

साहित्य[संपादित करें]

साहित्य में चित्र (पोट्रेट) शब्द किसी व्यक्ति या वस्तु के लिखित विवरण या विश्लेषण को संदर्भित करता है. एक लिखित चित्र अक्सर गहरी अंतर्दृष्टि देता है, और एक विश्लेषण पेश करता है जो सतही बातों से परे चला जाता है. उदाहरण के लिए, अमेरिकी लेखक पेट्रीसिया कॉर्नवेल ने एक सर्वश्रेष्ठ-बिक्री वाली पुस्तक लिखी जिसका शीर्षक है पोर्ट्रेट ऑफ़ अ किलर , जो जैक द रिपर के व्यक्तित्व, पृष्ठभूमि, और संभावित मंशा के बारे में है, और साथ ही साथ उसकी हत्याओं और उसके बाद होने वाली पुलिस जांच की मीडिया कवरेज के बारे में है.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • व्यंग्यचित्र
  • पर्यावरण चित्र
  • हेड शॉट
  • छुपे हुए चेहरे
  • शैलियों का पदानुक्रम
  • सेंचुरी 101 पोर्ट्रेट मास्टरपीसेस की चित्रकारी 1900-2000
  • पोर्ट्रेट पेंटिंग
  • आत्म-चित्रांकन
  • द पोर्ट्रेट नाऊ
  • अ पोर्ट्रेट ऑफ़ अ लेडी , 1881 में प्रकाशित एक उपन्यास, और 1996 की एक फिल्म

संदर्भ[संपादित करें]

  1. डोनान, क्रिस्टोफर बी प्राचीन पेरू से मोचे पोर्ट्रेट्स , टेक्सास विश्वविद्यालय प्रेस, 2004 ISBN 0-292-71622-2
  2. Sage, Adam (5 June 2006). "Cave face 'the oldest portrait on record'". London: The Times. http://www.timesonline.co.uk/article/0,,13509-2211142,00.html. अभिगमन तिथि: 2008-01-04. 

बाह्य लिंक[संपादित करें]

Wiktionary-logo-en.png
चित्र (पोर्ट्रेट) को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।
Wiktionary-logo-en.png
portraiture को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।
Wiktionary-logo-en.png
portraitist को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।