चिंगदाओ-हाइवान सेतु

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
चिंगदाओ-हाइवान सेतु
चिंगदाओ-हाइवान सेतु
क्षमता सड़क परिवहन
पार करता है जिआओझोउ खाड़ी
स्थानीय चिंगदाओ और हुआंग्दाओ जिला, चीन
अभिकल्पक शान्दोंग गाओसू समूह
अभिकल्पना रज्जु कर्षण सेतु
पदार्थ कांक्रीट
कुल लंबाई ४१.५८ किमी
AADT ३०,००० अनुमानित
पूर्णता तिथि आरम्भिक २०११
उद्घाटन तिथि ३० जून २०११
निर्देशांक 36°10′12″N 120°17′54″E / 36.169913, 120.298305Erioll world.svgनिर्देशांक: 36°10′12″N 120°17′54″E / 36.169913, 120.298305

चिंगदाओ-हाइवान सेतु (मन्दारिन: 胶州湾大桥) पूर्वी चीन के शान्दोंग प्रान्त में स्थित एक सेतु है। यह सेतु जिआओझोउ खाड़ी से होकर गुजरता है और हुआंग्दो जिले, चिंगदाओ नगर और होंग्दाओ द्वीप को आपस में जोड़ता है। इस सेतु पर तीन प्रवेश-निकास मार्ग हैं। यह सेतु ३० जून २०११ को खोला गया था, और इसने चिंगदाओ और हुआंग्दो के मध्य सड़क की दूरी को बहुत कम कर दिया है। इस सेतु की लम्बाई ४२.५ किमी है जो इसे विश्व का सबसे लम्बा समुद्री सेतु बनता है और यह २०११ की स्थिति तक गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के अनुसार सबसे लम्बा पुल है। इसकी तुलना में मुम्बई में स्थित बान्द्रा-वर्ली समुद्रसेतु मात्र ५.५ किमी लम्बा है।

निर्माण[संपादित करें]

इस पुल को बनने में मात्र चार वर्षों का समय लगा और इसके निर्माण में कुल १०,००० लोग लगे हुए थे। इस पुल का डिज़ाइन शान्दोंग गाओसू समूह ने बनाया था औत इस पुल पर कुल ४,५०,००० टन इस्पात और २३ लाख घन मीटर कांक्रीट का उपयोग किया गया था। इस पुल का डिज़ाइन इस प्रकार का है कि यह भूकम्पों, चक्रवातों, और जहाज़ों की टक्कर को झेल सके। यह सेतु ५,००० स्तम्भों पर समर्थित है, और डॅक की चौड़ाई ३५ मीटर है जिसपे कुल छः लेनें और दो शोल्डर बने हुए हैं, और इस पुल की कुल निर्माण लागत १० अरब यूआन (१.५ अरब अमेरिकी डालर) है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]