ग्वाला तारामंडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ग्वाला या बोओटीस तारामंडल

ग्वाला या बोओटीस (अंग्रेज़ी: Boötes) तारामंडल खगोलीय गोले के उत्तरी भाग में दिखने वाला एक तारामंडल है। यह 0° और +60° के झुकाव और 13 से 16 घंटे के दायां आरोहण पर स्थित है। दूसरी शताब्दी ईसवी में टॉलमी ने जिन ४८ तारामंडलों की सूची बनाई थी यह उनमें से एक है और अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ द्वारा जारी की गई ८८ तारामंडलों की सूची में भी यह शामिल है। इस तारामंडल में आकाश का तीसरा सब से रोशन तारा, स्वाती (आर्कट्युरस), सम्मिलित है। पुरानी खगोलशास्त्रिय पुस्तकों में इसे अक्सर एक ग्वाले या चरवाहे के रूप में दर्शाया जाता था, जिसके हाथ में दो कुत्तों के पत्ते हैं।

तारे[संपादित करें]

ग्वाले तारामंडल में पंद्रह मुख्य तारे हैं, हालांकि वैसे इसमें 59 तारों को बायर नाम दिए जा चुके हैं। इसके "τ बोओटीस" (Tau Boötis) तारे के इर्द-गिर्द एक गैस दानव ग्रह परिक्रमा कर रहा है जो चौथा खोजा गया ग़ैर-सौरीय ग्रह था। इस तारामंडल के मुख्य तारे इस प्रकार हैं -

बायर नाम नाम नाम का अर्थ
α स्वाती (आर्कट्युरस) "आर्कट्युरस" का यूनानी में अर्थ है "भालुओं का रखवाला"
β नॅक्कर
γ सॅगिनस
ε इज़ार कमरबन्द
η मुफ़्रिद अकेला / तनहा
μ अल-कलौरोप्स चरवाहे की लाठी
h मॅर्गा कुदाली
ψ नदलत छोटे वाले

इन्हें भी देखें[संपादित करें]