गुरुद्वारा बंगला साहिब

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
गुरुद्वारा बंगला साहिब
नाम
मुख्य नाम: गुरुद्वारा बंगला साहिब
स्थान
स्थान: कनाट प्लेस, नई दिल्ली, भारत
वास्तुकला और संस्कृति
प्रमुख आराध्य: गुरु
स्थापत्य शैली: गुरुद्वारा
सिख धर्म
पर एक श्रेणी का भाग

Khanda1.svg

सिख धर्म का इतिहास
सिख मान्यताएं
सिख

सिख गुरु

सिख भगत

अन्य प्रसिद्ध लोग

दर्शन
मान्यतायें और सिद्धांत
निहित मूल्य
निषेध
तकनीक और विधियां
बाणी

सिख व्यवहारसूची

ग्रंथ
गुरु ग्रंथ साहिब
आदि ग्रंथदशम ग्रंथ

श्रेणियां
व्यवहारइतिहास
सिख गुरुओं के परिवार
गुरुद्वारा . तीर्थ
राजनीति

सिख धर्म पर लेख
प्रवेशद्वार: सिख धर्म

इस संदूक को: देखें  संवाद  संपादन

गुरुद्वारा बंगला साहिब दिल्ली का सबसे महत्वपूर्ण गुरुद्वारों में से एक है। यह अपने स्वर्ण मंडित गुम्बद शिखर से एकदम ही पहचान में आ जाता है। यह नई दिल्ली के बाबा खड़गसिंह मार्ग पर गोल मार्किट, नई दिल्ली के निकट स्थित है।

यह गुरुद्वारा मूलतः एक बंगला था, जो जयपुर के महाराजा जयसिंह का था। सिखों के आठवें गुरु गुरु हर किशन सिंह यहां अपने दिल्ली प्रवास के दौरान रहे थे। उस समय स्माल पॉक्स और हैजा की बिमारियां फैली हुई थीं। गुरु महाराज ने उन बीमाअरियों के मरीजों को अपने आवास से जल और अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराईं थीं। अब यह जल स्वास्थ्य वर्धक, आरोग्य वर्धक और पवित्र माना जाता है, और विश्व भर के सिखों द्वारा ले जाया जाता है। यह गुरुद्वारा अब सिखों और हिन्दुओं के लिए एक पवित्र तीर्थ है।

गुरुद्वारा बंगला साहिब
Bangla Sahib in New Delhi.jpg