गुन्नार म्यर्दल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
गुन्नार म्यर्दल

कार्ल गुन्नार म्यदाल (Karl Gunnar Myrdal ; स्विडी भाषा: [ˈmyːɖɑːl]; ६ दिसम्बर १८९८ - १७ मई १९८७) एक स्वीडिश अर्थशास्त्री, राजनेता और नोबेल विजेता थे। १९७४ में, फ्रेडरिक हायेक के साथ अर्थशास्त्र के क्षेत्र में मुद्रा और आर्थिक विचलन के सिद्धांत के क्षेत्र में अग्रणी काम और आर्थिक, सामाजिक और संस्थागत के लिए घटना के तीक्ष्ण विश्लेषण के लिए नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया। इन्हें वर्ष १९८१ में इनकी पत्नी अल्वा म्यर्दल के साथ जवाहर लाल नेहरू पुरस्कार प्रदान किया गया था।

मिर्डाल का क्षेत्रीय विकास का मॉडल[संपादित करें]

मिर्डाल ने एशिया-अफ़्रीका-लातिनी अमेरिका की बदहाली, कंगाली व पिछड़ेपन और यूरोप एवं अमेरिका की समृद्धि के अनुभवों के आधार पर क्षेत्रीय विकास के अर्थशास्त्र की पुस्तक की रचना की। मिर्डाल के अनुसार, मशीनों के अविष्कार, औद्योगिक क्रांति की शुरुआत – (इंग्लैंड में वस्त्र उद्योग का विकास – पश्चिम यूरोप में बड़े उद्योगों का विकास) और मशीनों के प्रयोग से बड़े पैमाने पर उत्पादन की शुरुआत हुई। इसके परिणामस्वरूप पूंजीवाद का आगमन हुआ।

मिर्डाल के अनुसार औद्योगीकरण एवं नगरीकरण की प्रक्रिया द्वारा क्षेत्रीय विकास हुआ। औद्योगिक क्रांति के फलस्वरूप औद्योगिक सभ्यता का विकास हुआ। परिणामस्वरूप नगरीकरण का सूत्रपात हुआ। नगरों की संख्या में वृद्धि हुई और क्षेत्रीय विकास हुआ।

मिर्डाल ने औद्योगिक क्षेत्रों और नगरीय केन्द्र के विकास के आधार पर एशिया-अफ़्रीका-लातिनी अमेरिका के लिए क्षेत्रीय विकास का मॉडल प्रस्तुत किया। मिर्डाल ने केन्द्रित आर्थिक विकास कार्यक्रमों की तरफ विशेष ध्यान दिया।

मिर्डाल के अनुसार, औद्योगीकरण तथा नगरीकरण में गहरा सम्बंध है। औद्योगीकरण एवं नगरीकरण के परिणामस्वरूप सम्बन्घित क्षेत्रों का विकास संभव है।

केन्द्रीकृत विकास : स्थानीय प्राकृतिक संसाघनों पर आधारित उद्योग की स्थापना – जिसमें बड़े-बड़े उद्योग होंगे तथा उनमें हजारों-हजारों की संख्या में मजदूर काम करेंगे। मिर्डाल के अनुसार पिछड़े क्षेत्रों में केन्द्रित आर्थिक विकास की बड़ी भूमिका है। एशिया में भी जिन देशों में नगरीकरण अधिक है, वह औद्योगीकरण के कारण ही हुआ है।औद्योगीकरण के परिणामस्वरूप नगरीकरण का विस्तार संभव है। औद्योगीकरण और नगरीय करण से सम्बन्घित क्षेत्र का विकस संभव है।