गुजराँवाला ज़िला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पाकिस्तानी पंजाब प्रांत में गुजराँवाला ज़िला (लाल रंग में)

गुजराँवाला (उर्दू: گوجرانوالہ, अंग्रेज़ी: Gujranwala) पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का एक ज़िला है। गुजरात ज़िले की राजधानी गुजराँवाला शहर है। इस ज़िले की चार तहसीलें हैं - गुजराँवाला, कामोंकी, नौशहराँ विरकाँ और वज़ीराबाद। यह ज़िला पाकिस्तानी पंजाब प्रान्त के पूर्वोत्तर में स्थित है। इसकी सीमाएँ उत्तर में गुजरात ज़िले से, पूर्वोत्तर में सियालकोट ज़िले से, दक्षिण और दक्षिण पूर्व में शेख़ुपुरा ज़िले से, पश्चिम में हाफ़िज़ाबाद ज़िले से और पश्चिमोत्तर में मंडी बहाउद्दीन ज़िले से लगतीं हैं।

विवरण[संपादित करें]

गुजराँवाला ज़िले में सन् २०१० में ४९,१०,६०० लोगों की आबादी थी। इसका क्षेत्रफल क़रीब ५,९८८ वर्ग किमी है। इस ज़िले के असरूर गाँव को चीनी धर्मयात्री ह्वेन त्सांग द्वारा वर्णित प्राचीन ताकी शहर के रूप में पहचाना गया है। यहाँ बहुत से बौद्ध धर्म से सम्बंधित खँडहर हैं। धीरे-धीरे यह शहर गुमनाम हो गया और पंजाब में लाहौर मुख्य शहर के रूप में उभरा।[1] आगे चलकर इस क्षेत्र का नाम गुज्जर लोगों पर पड़ा (गुजराँवाला 'गुज्जर वाला' का पंजाबी रूप है)।[2] जब पंजाब में सिख धर्म उभरा तो आने वाले महाराजा रणजीत सिंह के दादा, चरत सिंह ने इसे अपना और अपने पुत्र का गढ़ बना लिया, हालांकि तब यह एक जंगली-देहाती इलाक़ा माना जाता था। महाराजा रणजीत सिंह इसी ज़िले में पैदा हुए और जब तक उन्होंने लाहौर पर क़ब्ज़ा नहीं कर लिया तब तक यही उनकी राजधानी बना रहा। आज़ादी से पहले इस ज़िले के ५०% लोग मुस्लिम, ३०% हिन्दू और १०% सिख थे, लेकिन भारत के विभाजन के बाद अब यह ज़िला लगभग १००% मुस्लिम है।

गुजराँवाला ज़िले के कुछ नज़ारे[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Imperial gazetteer of India, Sir William Wilson Hunter, Great Britain. India Office, Clarendon Press, 1908, ... The village of Asarur has been identified as the site of the town of Tse-kie or Taki, visited by Hiuen Tsiang about AD 630, and described by him as the capital of the Punjab. Here immense ruins of Buddhist origin are still to be seen ...
  2. Costumes and ornaments of Chamba, Kamal Prashad Sharma, Surinder Mohan Sethi, Indus Publishing, 1997, ISBN 978-81-7387-067-5, ... There are many localities and regions called after Gurjaras. Gujranwala, Gujarat and Gujjar Khan (in west Punjab) are associated with these people ...