गर्मरक्ती

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
उष्मीय तस्वीर: एक शीतरक्ती सांप एक गर्मरक्ती चूहे को खा रहा है

गर्मरक्ती (warm-blooded) प्राणियों की ऐसे जातियों को कहा जाता है जिनके रक्त का तापमान अन्य शीतरक्ती जानवरों की तुलना में अधिक होता है और जो अपनी अंदरूनी चयापचय प्रक्रियाओं के द्वारा अपनी ऊष्मीय समस्थिति बहाल रखते हैं। प्राणी-जगत में यह लक्षण पक्षियों और स्तनधारियों (मैमलों) के हैं। गर्मरक्ती जानवर सर्द परिस्थितियों में भी अपना अंदरूनी तापमान ऊँचा रख पाते हैं और वे अक्सर ऐसा ठिठुर कर करते हैं, जबकि शीतरक्ती जानवरों का तापमान वही हो जाता है जो उनके इर्द-गिर्द के वातावरण का है।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Animal World, pp. 11, Saddleback Educational Publishing,2008, ISBN 978-1-59905-232-8, ... Warm-blooded animals have the ability to maintain a constant body temperature in any kind of environment. Warm-blooded animals are also known as endotherms. Birds and mammals are examples of warm-blooded animals ...
  2. Warm-Blooded Or Cold-Blooded?, Bobbie Kalman, pp. 11, Crabtree Publishing Company, 2008, ISBN 978-0-7787-3281-5, ... Warm-blooded animals are able to warm their bodies by shivering when they are cold. When you shiver, your body shakes to warm you up ...