खोई भाषाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
खोई
मध्य खोईसान (पुराना अप्रचलित नाम)
भौगोलिक
विस्तार:
नामीबियाकालाहारी रेगिस्तान
भाषा श्रेणीकरण: खोई-सान्दावे (प्रस्तावित)
  • क्वाडी-खोई
    • खोई
उपश्रेणियाँ:
खोईखोई
त्शु-ख्वे
ऍथनोलॉग कोड: 17-61

खोई भाषाएँ (Khoe languages) अफ़्रीका के दक्षिणी हिस्से में बोली जाने वाली भाषाओं का वह सबसे बड़ा परिवार है जो बांटू भाषा-परिवार का सदस्य नहीं है। यह पहले खोईसान भाषाओं की एक शाखा मानी जाती थी और 'मध्य खोईसान' के नाम से जानी जाती थी, लेकिन आधुनिक काल में यह एक अलग परिवार समझा जाता है। खोई भाषाओं में से सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा नामा भाषा है जो नामीबिया में बोली जाती है। अन्य खोई भाषाएँ बोत्स्वाना में कालाहारी रेगिस्तान में बोली जाती हैं। खोई भाषाएँ अपने क्लिक व्यंजनो के लिये जानी जाती हैं।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Hunters and Herders of Southern Africa: A Comparative Ethnography of the Khoisan Peoples, Alan Barnard, pp. 31, Cambridge University Press, 1992, ISBN 9780521428651, ... The important point here is that the Khoe languages are distinct from the rest, and are spoken by both hunter-gatherers and herders ...