खण्ड (आवर्त सारणी )

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

रासायनिक तत्त्वों की आवर्त सारणी में खण्ड पार्श्वस्थ स्थित समूहों को कहते हैं। इस शब्द को प्रथम बार फ़्रेंच में चार्ल्स जैनेट ने प्रयोग किया था। [1] एक खण्ड के सर्वोच्च-ऊर्जा प्रतिनिधि इलेक्ट्रॉन समान परमाणु ऑर्बिटल से होते हैं। अतः प्रत्येक खण्ड को उसके विशिष्ट ऑर्बिटल के नाम पर कहा जाता है:

  1. Charles Janet, La classification helicoidal des elements chimiques, Beauvais, 1928