कोणीय त्वरण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
चिरसम्मत यांत्रिकी
\mathbf{F} = m \mathbf{a}
न्यूटन का गति का द्वितीय नियम
इतिहास · समयरेखा
इस संदूक को: देखें  संवाद  संपादन

कोणीय वेग में परिवर्तन की दर को कोणीय त्वरण (अंग्रेज़ी: Angular acceleration) कहते हैं। अन्तर्राष्ट्रीय इकाई प्रणाली में इसका मात्रक रेडियन प्रति वर्ग सैकण्ड (rad/s2) है और सामान्यतया इसे एल्फा (α) से प्रदर्शित किया जाता है।[1]

गणितीय परिभाषा[संपादित करें]

कोणीय वेग को निम्न प्रकार से परिभाषित किया जाता है:

{\alpha} = \frac{d{\omega}}{dt} = \frac{d^2{\theta}}{dt^2}, or
{\alpha} = \frac{a_T}{r},

जहाँ, ω कोणिय वेग है, aT स्पर्शीय रेखीक त्वरण का है और r (सामान्यतया इसे वक्रता त्रिज्या लिया जाता है।) निर्देश तंत्र के मूल बिन्दु से दूरी है जहाँ से ω व θ परिभाषित हैं।

गति के समीकरण[संपादित करें]

द्विवीमिय घुर्णन गति के लिए, न्यूटन के गति के दूसरे नियम के अनुसार बलाघूर्ण व कोणीय त्वरण में सम्बन्ध

{\tau} = I\ {\alpha},

जहाँ τ पिण्ड पर लगने वाला कुल बल आघूर्ण है तथा I जड़त्वाघूर्ण

ये भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]