क़शक़ाई भाषा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
क़शक़ाई
क़शक़ेय दिलि
बोलने का स्थान ईरान, इराक़
क्षेत्र फ़ार्स
कुल बोलने वाले १५,००,००० (१९९७)
भाषा-परिवार तुर्की
लिपि अरबी-फ़ारसी, रोमन
भाषा कोड
आइसो ६३९-१ -
आइसो ६३९-२
आइसो ६३९-३ qxq

क़शक़ाई (قشقایی, Qashqai) या ग़शग़ाई एक तुर्की भाषा है जो क़शक़ाई समुदाय के लोग बोलते हैं। यह समुदाय मुख्य रूप से ईरान के फ़ार्स क्षेत्र में बसा हुआ है। क़शक़ाई बोली अज़ेरी भाषा के बहुत क़रीब है और कभी-कभी उस भाषा की उपभाषा कहलाती है। अधिकतर क़शक़ाई लोग क़शक़ाई भाषा के साथ-साथ फ़ारसी भी लिख-बोल सकते हैं।[1]

नाम का उच्चारण[संपादित करें]

'क़शक़ाई' नाम में बिन्दु-वाले 'क़' के उच्चारण पर ध्यान दें - यह 'क' से ज़रा भिन्न है और 'क़ीमत' जैसे शब्दों में मिलता है। इस शब्द को ईरानी लहजे में 'ग़शग़ाई' उच्चारित किया जाता है, जिसके बिंदु-वाले 'ग़' के उच्चारण पर भी ध्यान दें - यह 'ग' से भिन्न है और 'ग़रीब' व 'ग़ायब' जैसे शब्दों में मिलता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]