ओटावा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ऊपर से : कनाडा की संसद, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक, कनाडा की राष्टीय गैलरी, रिडो नहर

ओटावा (Ottawa) कनाडा की राजधानी है। यह नगर कैनाडा में ओण्टेरियो प्रांत के कार्लटन प्रदेश में ओटावा नदी के दाहिने किनारे पर शोडयेर जलप्रपात के पास स्थित है। यह नगर माँट्रील से १५० किमी पश्चिम और टोरेंटो से ३२५ किमी उत्तर-पूर्व की ओर है।

परिचय[संपादित करें]

यह चपटी पहाड़ियों पर बसा है, जो नदी से ६० से लेकर १५५ फुट तक ऊँची हैं। यहाँ कई बड़ी-बड़ी सरकारी इमारतें, संसद्भवन, गिरजे तथा विश्वविद्यालय हैं। सन् १८५८ में यह छोटा नगर, जो पहले 'बाइटाउन' कहलाता था, कैनाडा की राजधानी चुना गया और इसका नाम बदलकर ओटावा पड़ा। तब से यहाँ की आबादी बढ़ती गई। यह कैनाडा का पाँचवाँ बड़ा नगर है। यहाँ के एक तिहाई निवासी फ्रेंचभाषी, बाकी अंग्रेजीभाषी हैं।

यह नगर रेलों का बड़ा केंद्र है। मुख्य बड़े रेलमार्ग, कैनेडियन पैसिफ़िक रेलवे, कैनेडियन नैशनल रेलवे तथा न्यूयार्क सेंट्रल रेलवे, यहीं से होकर गुजरते हैं। विद्युतचालित रेलें इस नगर को, क्विबेक, मॉण्ट्रील, टोंरेंटो, विनिपेग इत्यादि नगरों से जोड़ती हैं। ग्रीष्म ऋतु में यहाँ से स्टीमर ओटावा नदी द्वारा मॉण्ट्रील को जाते हैं। इस जलमार्ग को तीन नहरों द्वारा नदी के छोटे जलप्रपातों को दूर कर, १८३४ ई. में पूरा किया गया। उसी प्रकार इसे सेंट लारेंस नदी पर स्थित किंग्स्टन नगर से रिडो नहर तथा झीलों द्वारा १८२४ ई. में मिलाया गया।

ओटावा के पास के क्षेत्रों से कई जलप्रपातों द्वारा अधिक मात्रा में जलविद्युत पैदा की जाती है जो नगर में प्रकाश तथा शक्ति देने और रेलों तथा कारखानों के काम आती है। मुख्य जलविद्युत् उत्पादक केंद्र शोडयेर, रिडो तथा गैटनो के जलप्रपातों पर अवस्थित हैं।

यह नगर लकड़ी के लट्ठों, लकड़ी चीरने, तथा लुगदी और कागज बनाने का बहुत बड़ा केंद्र है। कैनाडा की कई बड़ी कागज की मिलें यहाँ हैं। लकड़ी से संबंधित और भी कारखाने हैं, जैसे दियासलाई आदि के। शहर का औद्योगिक जीवन लकड़ी से संबंधित कारखानों पर निर्भर है। आटा पीसने, लोहा गलाने, रासायनिक द्रव्य तैयार करने तथा अन्य उत्पादनों के कारखाने भी यहाँ हैं।

ओटावा और गाटिनो (Gatineau) का दृष्य