एक विमीय समष्टि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

गणित और भौतिक विज्ञान में n-संख्याओं के एक अनुक्रम को n-विमीय समष्टि के रूप मेँ मान सकते हैं। जब n=1 हो तो इस तरह के सभी समुच्चय एक-विमीय युक्लिडीय समष्टि का निर्माण करते हैं।

एक विमीय ज्यामिति[संपादित करें]

अधिगोलक[संपादित करें]

एक विमीय अधिगोलक बिन्दुओं के समूह के रूप, कभी-कभी इसे शून्य-विमीय गोला भी कहा जाता है क्योंकि इसके तल की विमा शून्य होती है। इसकी लम्बाई

L = 2r

जहाँ r त्रिज्या है।

एक विमीय समष्टि में निर्देशांक पद्धति[संपादित करें]

प्रमुख पद्धातियाँ संख्या रेखा और कोण हैं।