ऍचडी १०१८०

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ऍचडी १०१८० तारा
ऍचडी १०१८० के ग्रहीय मंडल का काल्पनिक वीडियो
चित्रकार की कल्पना से बनी तस्वीर जिसमें ऍचडी १०१८० डी (d) ग्रह से उसका तारा देखा जा रहा है - इसमें ऍचडी १०१८० बी (b) और ऍचडी १०१८० सी (c) भी छोटे-से दूर नज़र आ रहे हैं

ऍचडी १०१८० (HD 10180) पृथ्वी से अनुमानित १२७ प्रकाश वर्ष दूर नर जलसर्प तारामंडल के क्षेत्र में स्थित एक G1V श्रेणी का सूर्य-जैसा मुख्य अनुक्रम तारा है। इसके इर्द-गिर्द कम-से-कम ७ ग़ैर-सौरीय ग्रह परिक्रमा करते हुए ज्ञात हुए हैं और सम्भव है कि इन ग्रहों की कुल संख्या ९ भी हो। अभी तक यह सभी ज्ञात ग्रहीय मंडलों में सबसे अधिक ग्रहों वाला मंडल है और इसमें सम्भवतः हमारे सौर मंडल से भी ज़्यादा ग्रह हैं।[1]

तारे का विवरण[संपादित करें]

पृथ्वी से देखी गई इसकी चमक (सापेक्ष कान्तिमान) +७.३३ मैग्नीट्यूड मापी गई है, यानी इसे देखने के लिए दूरबीन आवश्यक है। यह आकार में हमारे सूरज से ज़रा बड़ा है - इसका द्रव्यमान (मास) हमारे सूरज के द्रव्यमान से ६% बड़ा और इसका व्यास (डायामीटर) हमारे सूरज के व्यास का १.२ गुना अनुमानित किया गया है। इसकी वास्तविक चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) हमारे सूरज से ४९% अधिक है।

ग्रहीय मंडल[संपादित करें]

इस तारे के ग्रहों की सूची इस प्रकार है -

ग्रह का नामांकन द्रव्यमान अर्ध्य-मुख्य अक्ष
(ख.ई.)
कक्षीय अवधि
(दिन)
कक्षीय विकेन्द्रता अर्धव्यास
b >१.३ ± ०.८ M ०.०२२२२ ± ०.०००११ १.१७७६६ ± ०.०००२२ ०.०००५ ± ०.००४९
c >१३.० ± २.० M ०.०६४१ ± ०.००१० ५.७५९७३ ± ०.०००८३ ०.०७ ± ०.०८
i >१.९ ± १.८ M ०.०९०४ ± ०.०४७ ९.६५५ ± ०.०७२ ०.०५ ± ०.२३
d >११.९ ± २.१५ M ०.१२८४ ± ०.००६१ १६.३५४ ± ०.००१३ ०.०११ ± ०.०१३
e >२५.० ± ३.९ M ०.२७० ± ०.००१३ ४९.७५ ± ०.००७ ०.००१ ± ०.०१०
j >५.१ ± ३.२ M ०.३३० ± ०.०१६ ६७.५५ ± १.२८ ०.०७ ± ०.१२
f >२३.९ ± १.४ M ०.४९२९ ± ०.००७८ १२२.८८ ± ०.६५ ०.१३ ± ०.०१५
g >२१.४ ± ३.४ M १.४१५ ± ०.०९१ ५९६ ± ३७ ०.०३ ± ०.४०
h >६५.८ ± १२.९ M ३.४९ ± ०.६० २३०० ± ५५० ०.१८ ± ०.०१६

ग्रहों पर टिप्पणी[संपादित करें]

  • ऍचडी १०१८० बी (b) - सम्भव है कि यह पृथ्वी के अकार का हो लेकिन यह अपने तारे के बहुत समीप है, जिस से इसपर बेहद गर्मी होगी। अगर हमारे सौर मंडल के सबसे अंदरूनी ग्रह बुध (मरक्युरी) को देखा जाए तो यह ग्रह अपने सूरज से उसकी तुलना में १/७ गुना दूरी पर है (यानी बुध ७ गुना ज़्यादा दूर है)।
  • ऍचडी १०१८० सी (c) - इसका द्रव्यमान हमारे सौर मंडल के अरुण (युरेनस) ग्रह जैसा है इसलिए यह एक गैस दानव ग्रह है। लेकिन अपने सूरज के बहुत पास होने से इसका तापमान बहुत ज़्यादा होगा।
  • ऍचडी १०१८० आई (i) - यह एक संभवतः महापृथ्वी है जिसका अस्तित्व २०१२ में ज्ञात हुआ।
  • ऍचडी १०१८० डी (d) - यह अरुण (युरेनस) से छोटा है। यह एक गरम गैस दानव है।
  • ऍचडी १०१८० ई (e) - यह हमारे सौर मंडल के वरुण ग्रह (नेपट्यून) से लगभग दुगने अकार का है। यह भी एक गरम गैस दानव है।
  • ऍचडी १०१८० जे (j) - यह एक संभवतः महापृथ्वी है या फिर एक छोटे गैस दानव है जिसका अस्तित्व २०१२ में ज्ञात हुआ। इसका तापमान भी काफ़ी ऊँचा होगा।
  • ऍचडी १०१८० ऍफ़ (f) - यह ऍचडी १०१८० ई (e) से मिलते-जुलते अकार का है। यह भी एक गरम गैस दानव है।
  • ऍचडी १०१८० जी (g) - यह हमारे सौर मंडल के वरुण ग्रह (नेपट्यून) से कुछ बड़े अकार का है। यह अपने तारे के वासयोग्य क्षेत्र में आता है लेकिन अपने बड़े द्रव्यमान के कारण इसपर जीवन पनपने की सम्भावना कम लगती है। यह ज़रूर सम्भव है कि इसके इर्द-गिर्द अगर कोई वायुमंडल-युक्त उपग्रह परिक्रमा कर रहा हो तो उसपर जीवनदायी पानी हो।
  • ऍचडी १०१८० ऍच (h) - यह शायद हमारे सौर मंडल के शनि ग्रह (सैटर्न) के अकार का गैस दानव ग्रह है। यह अपने तारे से लगभग उतना ही दूर है जितना हमारे सौर मंडल में क्षुद्रग्रह घेरा सूरज से है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Evidence for 9 planets in the 10180 system, Mikko Tuomi, Astronomy & Astrophysics (Journal), 6 अप्रैल 2012