उन्नाव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

उन्नाव उत्तर प्रदेश प्रान्त का एक जिला है। यह लखनउ तथा कानपुर के बीच मे स्थत है, लखनउ लगभग ६० किलोमीटर दूर है कानपुर से १८ किलोमीटर दूर है यह दो शहरों को जोड़ता हुआ एक कस्वा है जो दोनों शहरों के रोडवेज या रेलवे मार्ग को जोड़ता है। नगर को अभी तक अनेक देशभक्त, हिन्दी साहित्य के नाम से जाना जाता है। उन्नाव के गंगा तट पर बैठकर महर्षि वाल्मीकि ने दुनिया के प्रथम महाकाव्य "रामायण" की रचना की थी, यही नहीं इसी उन्नाव में लवकुश ने राम की सेना को परास्त किया था। उन्नाव के बदरखा गांव चन्द्रशेखर आजाद जैसों ने जन्म लिया। हिन्दी साहित्य में इसके पशचात् समालोचक आचार्य पं. कृष्णाशंकर शुक्ल, आचार्य नन्ददुलारे वाजपेयी एवं डा. राम विलास शर्मा, डा. शिवमंगल सिंह "सुमन" आशीष कुमार आदि के नाम से जाना जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]