ईद-उल-अज़हा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

ईद-उल-जुहा (बकरीद) (अरबी में ईद-उल-अज़हा जिसका मतलब क़ुरबानी की ईद) इस्लाम धर्म में विश्वास करने वाले लोगों का एक प्रमुख त्यौहार है। रमजान के पवित्र महीने की समाप्ति के लगभग ७० दिनों बाद इसे मनाया जाता है। इस्लामिक मान्यता के अनुसार हजरत इब्राहिम अपने पुत्र हजरत इस्माइल को इसी दिन खुदा के हुक्म पर खुदा कि राह में कुर्बान करने जा रहे थे, तो अल्लाह ने उसके पुत्र को जीवनदान दे दिया जिसकी याद में यह पर्व मनाया जाता है।

ईद उल-अज़हा के सांप्रदाय[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]


इस्लाम धर्म के त्यौहार Kabaa.jpg
ईद-उल-जुहा | ईद उल-फ़ित्र | मीलाद उन-नबी | बारा वफात | मुहर्रम | शबे बरात