इक्का

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ताश की गड्डी के चार इक्के

इक्का ताश का एक पत्ता है। एक ताश की गड्डी में ऐसे चार इक्के होते है (चिडी, हुकुम, पान, ईंट)। अधिकतर हुकुम इक्के को काफ़ी सजावट के साथ छापा जाता है। हुकुम का इक्का स्कॉटलैंड के राजा जेम्स VI और इंगलैंड के I की आवश्यक्ता के अनुसार पहली बार सजावट के साथ छापा गया था जिन पर छपाई घर की मुहर छपी होती थी। उस काल में यह ज़रुरी था जिससे उस छपाई घर ने नया कर भरा है या नहीं पता चलता था। हालांकि यह कर 1960 में रद्द कर दिया गया परन्तु सजावट की प्रथा आज भी चालू है।[1]

इक्का शब्द का अर्थ हिन्दी में "एक" होता है और इसके अंग्रेज़ी शब्द ऐस (Ace) का लैटिन भाषा में अर्थ "एक चिज़" होता है जो एक छोटे रोमन सिक्के से लिया गया है। ताश में शामिल करने से पहले इसका अर्थ पासे के उस सिरे से था जिसपे केवल एक निशान होता था। पासे का एक अंक, जो सबसे कम पारी की कीमत थी, इस कारण इसे बुरा शगुन माना जाता था, परन्तु ताश में इक्का सबसे बडा पत्ता होने के कारण इसका अर्थ बदल कर "उत्कृष्ट" या "बेहतरीन" बन गया। आज इक्का शब्द टेनिस में उस शॉट के लिए प्रयोग होता है जो सर्व करते वक्त बिना रोके निकल जाए। अन्य उपयोगों में यह बेहतरीन लडाकू विमान चालक या ऐसे इंसान के लिए लागू होता है जो अपने काम में महारत रखता हो।

उदाहरण[संपादित करें]

हुकुम का इक्का चिडी का इक्का पान का इक्का ईंट का इक्का
Ace of spades Ace of clubs Ace of hearts Ace of diamonds

इन्हे भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]