आहार-कक्ष

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
समान नाम के फर्नीचर के लिए, साईडबोर्ड देखें.

आहार-कक्ष भोजन परोसने का एक तरीका है जिसमें भोजन को एक सार्वजनिक क्षेत्र में रखा जाता है जहां आम तौर पर भोजन करने वाले व्यक्ति अपने लिए स्वयं भोजन परोसते हैं. यह कम से कम कर्मचारियों के साथ लोगों की बड़ी संख्या को भोजन कराने का एक लोकप्रिय तरीका है. आहार-कक्ष होटलों और कई सामाजिक कार्यक्रमों सहित विभिन्न स्थानों पर पेश किया जाता है. साईडबोर्ड को आहार-कक्ष भी कहा जाता है क्योंकि वे अतिथियों को आहार-कक्ष के भोजन के व्यंजनों की पेशकश हेतु उपयोग में आ सकते है.

प्रकार[संपादित करें]

अमेरिका में एक चीनी बुफे रेस्तरां

आहार-कक्ष का एक प्रकार प्लेट्स से सुसज्जित एक मेज है जिनके अन्दर भोजन की निश्चित मात्रा होती है, ग्राहक चलते हुए उस प्लेट का चयन करते है जिस प्लेट में वो खाद्य पदार्थ है जिसे वे खाना चाहते हैं. इस प्रकार के आहार-कक्ष सामान्यतः कैफेटेरिया में देखे जाते है. एक बदलाव डिम सम हॉउस (चाइनीज रेस्टोरेंट) में होता है जहां ग्राहक पहिएदार ट्राली के माध्यम से भोजन का चयन करते है जो पूरे रेस्टोरेंट में घूमती है. इस प्रकार के आहार-कक्ष का एक अन्य व्युत्पन्न वह है जहां ग्राहक एक आहार-कक्ष शैली लेआउट से भोजन का चयन करते है और फिर चयन के आधार पर भुगतान करते हैं.

एक और रूप जो और अधिक मुक्त प्रकार का है उसे आल-यू-केन-ईट कहते है: ग्राहक एक निश्चित शुल्क का भुगतान करते है और एक समय के भोजन में अपनी इच्छानुसार जितना चाहे उतना भोजन कर सकते हैं. रेस्तरां का यह रूप विशेष रूप से होटल में अक्सर पाया जाता है.

एक तीसरे प्रकार का आहार-कक्ष जो आमतौर पर डेलिकटेसन (ऐसा दुकान जहां परोसने के लिये तैयार खाना मिलता हो) और सुपरमार्केट में पाया जाता है, जो सलाद बार है, जहां ग्राहक सलाद पत्ता और अन्य सलाद सामग्री लेते है और फिर वजन के अनुसार भुगतान करते है.

आहार-कक्ष का एक चौथा प्रकार किसी प्रकार के एक उत्सव के साथ जुड़ा हुआ है.

स्वयं सेवा और पूर्ण टेबल सेवा के बीच एक समझौते के रूप में, एक स्टाफ्ड आहार-कक्ष की पेशकश की जा सकती है: खाना खाने वाले व्यक्ति अपनी थाली आहार-कक्ष रेखा के पास ले जाये और हर स्टेशन पर सर्वर द्वारा उन्हें उनका भाग दे दिया जाये. यह पद्धति केटर बैठकों में प्रचलित है जहां पर खाना खाने वाले व्यक्ति विशेष रूप से अपने भोजन के लिए भुगतान नहीं कर रहे हैं.

स्वीडन में आहार-कक्ष का एक अन्य परंपरागत रूप स्मोर्गास्बोर्ड है जिसका वास्तविक मतलब सैंडविच की मेज है.

घर का आहार-कक्ष[संपादित करें]

आहार-कक्ष एक ही बार में लोगों की बड़ी संख्या की सेवा के लिए प्रभावी हैं. इस कारण से वे संस्थागत सेटिंग्स जैसे व्यापार सम्मेलनों या बड़ी पार्टियों में प्रचलित हैं. तालिका सेवा की तुलना में आहार-कक्ष का एक और लाभ यह है कि व्यक्तियों के पास अपनी पसंद के अनुसार विकल्प होते है और चयन करने से पहले भोजन का बारीकी से निरीक्षण करने की क्षमता भी होती है. चूंकि आहार-कक्ष में व्यक्ति स्वयं खाना परोसते हैं, इसलिए अतीत में इसे भोजन का एक अनौपचारिक रूप माना गया है जो मेज सेवा से कम औपचारिक है. हालांकि हाल के वर्षों में, आहार-कक्ष के होम डिनर पार्टी मेजबानों के बीच तेजी से लोकप्रिय हो रहा है, विशेष रूप से उन घरों में जहां सीमित स्थान के कारण परोसना पेचीदा हो जाता है.

घर के आहार-कक्ष की व्यवस्था[संपादित करें]

घर का आहार-कक्ष छोटे या बड़े दोनों स्थानों पर अच्छी तरह कार्य करता है, लेकिन केवल तब जब आहार-कक्ष की व्यवस्था के प्रत्येक तत्व का ध्यान रखा जाता है. वह कमरा जिसे आहार-कक्ष बनाना है, उसमें फर्नीचर से दूर पर्याप्त स्थान होना चाहिए जिससे नुकसान से बचा जा सके. सबसे कुशल आहार-कक्ष के टेबल सेट अप में एक या दो मेज होती है जिनकी चौड़ाई थालियों की दो पंक्तियों के लिए पर्याप्त हो. यह मेहमानों को स्वयं टेबल के दोनों ओर से सर्व करने की सुविधा देता है, इससे सर्व करने की प्रक्रिया तेज हो जाती है और खाना गिरने का खतरा कम हो जाता है.

आहार-कक्ष का टेबल लाजिकल आर्डर में व्यवस्थित होना चाहिए, जिसमें प्लेट सबसे पहले, फिर उसके बाद मुख्य व्यंजन और फिर बाकी के व्यंजन रखे जाने चाहिए. आखिरी में बर्तन और नैपकिन होने चाहिए. यदि संभव हो तो मिठाई और विशेष रूप से पेय पदार्थ अलग मेज से सर्व होने चाहिए जो मुख्य टेबल से दूर होनी चाहिए. यह इसे गिरने से रोकने में मदद करता है.

इतिहास[संपादित करें]

आहार-कक्ष मेज ब्रन्न्विनस्बोर्ड - 16 सदी के मध्य से स्वीडिश स्नैप (नशीले पेय के शॉट)[1] की मेज से उत्पन्न हुई है और 18 वीं सदी की शुरुआत में यह महत्वपूर्ण हो गयी थी और यह आहार-कक्ष में, जिसके बारे में आज हम अधिक जानते हैं, 19 वीं सदी की शुरुआत से पहले विकसित नहीं थी. स्मोर्गास्बोर्ड आहार-कक्ष की लोकप्रियता में वृद्धि यूरोप में रेल रोड्स के विस्तार तक नहीं हुई थी.

स्मोर्गास्बोर्ड टेबल एक प्रकार का खाना है जहां मेहमान रात्रिभोज से पूर्व पीने के लिए एकत्रित होते है और यह औपचारिक डिनर का हिस्सा नहीं था. रात्रिभोज परोसने से पहले स्मोर्गास्बोर्ड आहार-कक्ष महिलाओं और पुरुषों के लिए अक्सर अलग अलग कमरे में आयोजित किया जाता था.[2]

स्मोर्गास्बोर्ड अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 1939 न्यूयॉर्क विश्व प्रदर्शनी में प्रसिद्ध हुआ क्योंकि स्वीडन को स्वीडिश भोजन के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का नया तरीका विकसित करना था.[3]

आहार-कक्ष शब्द मूलतः फ्रांसीसी साईडबोर्ड से संबंधित है जहां भोजन परोसा गया था, लेकिन अंततः इस प्रतिरूप के लिए प्रयुक्त हो गया. स्वीडन देश के निवासियों द्वारा न्यूयार्क में स्मोर्गास्बोर्ड का उपयोग करने के बाद 19 वी सदी के मध्य में आहार-कक्ष अंग्रेजी बोलने वाले व्यक्तियों की दुनिया में लोकप्रिय हो गया. यह शब्द अभी भी अंग्रेजी भाषा में गृहीत है.

जिस समय सोने और चांदी के आधिपत्य द्वारा शासन की ऋण शोधन क्षमता की माप की जाती थी, उस समय प्लेट और बर्तनों के रूप में किया गया यह प्रदर्शन एक विशिष्ट उपभोग की चेष्टा के बजाय एक राजनीतिक अधिनियम अधिक था. 16 वीं सदी के फ्रांसीसी शब्द आहार-कक्ष का तात्पर्य है, प्रदर्शन और फर्नीचर जिस पर उसे रखा गया है और अक्सर जिसे अच्छे से सजाया जाता था, दोनों से था लेकिन जैसे-जैसे उन्नति होती गयी वैसे-वैसे नक़्क़ाशीदार अलंकृत अलमारियों का उपयोग होने लगा जिन पर खाने की चीजे रखी जाती थी. इंग्लैंड में इस तरह के आहार-कक्ष को कोर्ट कबर्ड कहा गया था. थाली के प्रदर्शन हेतु खर्चीला तरीका सबसे पहले बरगंडी के फैशनेबल कोर्ट में पुनर्जीवित हुआ और फ्रांस में अपनाया गया. चांदी और सोने का अत्यलंकृत प्रदर्शन जो फ्रांस के लुई XIV द्वारा प्रभावित हुआ था वो एलेकजेंदर फ्रांसिस देस्पोर्ट्स और अन्य द्वारा चित्रों के रूप में अमर कर दिया गया था इससे पहले कि उसके शासन के अंत समय में युद्धों के भुगतान करने के लिए लुई की प्लेट और चांदी के फर्नीचर को टकसाल भेजा जाये.

18 वीं सदी के दौरान शोधन क्षमता के अधिक सूक्ष्म प्रदर्शनों को प्राथमिकता दी जाती थी. सदी के अंत में आहार-कक्ष उस समय इंग्लैंड और फ़्रांस में पुनर्जीवित हुआ जब एकान्तता के नए आदर्शों ने नाश्ते के समय स्वयं सेवा को नाम मात्र का बना दिया, यहां तक कि उन लोगों के मध्य भी जिनकी प्रत्येक कुर्सी के पीछे एक पैदल चलनेवाला हो सकता है. 1803 के कैबिनेट शब्दकोश में थॉमस शेरेटन ने निओक्लासिकल डिजाइन दिया और कहा कि "कुछ औचित्य के साथ आहार-कक्ष आधुनिक उपयोग हेतु बहाल हो सकता है और एक आधुनिक ब्रेकफास्ट-रूम के लिए सजावटी साबित हो सकता है, जो चीन के चाय एक्वपिज का कैबिनेट|रिपोजिटरी का जवाब है".

20 वीं सदी[संपादित करें]

एक कला प्रदर्शनी स्कूल में एक छोटा सा ठंडा बुफे

1922 में हाउ टू प्रिपेअर एंड सर्व ए मील नाम की एक पुस्तक में लिल्लियन बी. लेंसडाउन ने लिखा है:

आहार-कक्ष में भोजन खाने की अवधारणा 17 वीं शताब्दी के मध्य में फ्रांस में तब पैदा हुई जब सज्जन मुलाकाती उन महिलाओं के घरों में जाते थे जिन्हें वे अप्रत्याशित रूप से लुभाना चाहते थे. उनका एकाएक आगमन रसोई कर्मचारियों के मध्य आतंक फैला सकता था और उस समय केवल वही खाना परोसा जा सकता था जिसका चयन कोल्ड रूम में रखे खाने से किया गया है.

अनौपचारिक दोपहर का भोजन, मूल रूप से नाश्ते और रात्रिभोज के बीच का हल्का भोजन है, लेकिन अब वह अक्सर रात्रिभोज की जगह ले रहा है, फैशनेबिल आवर एक हो सकता है (या आधा यदि उसके बाद कार्ड खेले जाने है)- यह दो प्रकार का होता है. "आहार-कक्ष" का लंच, जिसमें मेहमान खड़े होकर खाना खाते है; और लंच उन छोटी मेजों पर परोसा जाता है जिस पर मेहमान बैठे हैं....
"आहार-कक्ष" के दोपहर के भोजन में चाकू वर्जित है, इसलिए सभी खाद्य प्रदार्थ ऐसे होने चाहिए कि उन्हें कांटे या चम्मच के साथ खाया जा सके. एक नियम के अनुसार परिचारिका की दोस्त परोसती हैं... निम्नलिखित व्यंजन आहार-कक्ष के लंच में अनिवार्य है. पेय पदार्थ: पंच, कॉफी, चॉकलेट (कलश से डाला गया या पेंट्री से ट्रे पर लाये गए भरे कप), गर्म शोरबा से पहले विभिन्न प्रकार के गर्म स्नैक्स (गर्म डिश या थाली से परोसे गए), ठंडे स्नैक्स, भारी ड्रेसिंग के साथ सलाद, झींगा मछली, आलू, चिकेन, चिंराट; गर्म रोल, वेफर-कट सैंडविच (सलाद, टमाटर, भुना हुआ हैम, इत्यादि); छोटा केक, जमी हुई क्रीम और बर्फ.[4]
छोटी टेबल पर अनौपचारिक लंच में परोसने के लिए बहुत सारी नौकरानियों की आवश्यकता होती है इसलिए "आहार-कक्ष" की योजना बेहतर है.

"आल यू केन ईट" आहार-कक्ष का श्रेय हर्ब मेक्डोनाल्ड, मिनियापोलिस, मिन्नेसोटा के होटल मैनेजर को जाता है जिन्होंने 1946 में यह विचार प्रस्तुत किया था. 1965 में आहार-कक्ष के बारे में उनके द्वारा लिखे गए उपन्यास, दी मुसेस ऑफ़ रुइन, में विलियम पियर्सन ने लिखा है:

आधी रात में हर स्वाभिमानी कैसीनो अपने आहार-कक्ष को मुख्य मानता है - यह दुनिया का आठवा आश्चर्य है, एक सत्य कला जिसे शहरों के इस उभयलिंगी गणिका वेश्या ने खुद जन्म दिया है.... हम ग्रेट पिरामिड को देखकर आश्चर्यचकित होते है, लेकिन वो दशकों में बनाया गया था, आधी रात के आहार-कक्ष दैनिक रूप से बनाये जाते है. पीसे हुए बर्फ के महल और गुफा चिंराट और झींगा मछली को ठंडा करते है. गढ़ा हुआ ऐस्प पैस्ले अरबेस्क़ुएस के साथ लपेटा हुआ है. वे श्रद्धालु कलात्मकता के साथ बाहर रखी गयी है: होर्स दोयूव्रेस, स्वाद, सलाद और सॉस, केकड़ा, सीप, स्टर्जन, आक्टोपस, और सामन मछली, टर्की, हैम, भुना हुआ मांस, कैसेरोल्स, फोंदुएस, और करी, चीज, फल और पेस्ट्री. आप कितनी बार लाइन के पास जाते है यह आप और आपकी क्षमता और फिर आपकी क्षमता और रसोइये की बुरी दृष्टि के मध्य एक निजी मामला है.[5]

"आल यू केन ईट" मील को निर्दिष्ट करने के लिए शब्द "आहार-कक्ष" का दुरुपयोग करने की प्रवृत्ति बहुत है, यहां तक कि तब भी जब भोजन पहले से तैयार नहीं है और मेज पर रखा नहीं गया है बल्कि आप एक निर्धारित मूल्य का भुगतान करते है और मेनू से कुछ भी अपनी इच्छानुसार कितनी भी बार आर्डर कर सकते हैं.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

लोकप्रिय आहार-कक्ष[संपादित करें]

संयुक्त राज्य अमेरिका में, आहार-कक्ष एक बड़ी आहार-कक्ष श्रृंखला निगम है जो पुराने देश के आहार-कक्ष, देश के आहार-कक्ष, अग्नि पर्वत, रयान के स्टीकहॉउस और होम टाउन के आहार-कक्ष के स्वामी है. गृहनगर आहार-कक्ष "स्कैटर बुफे" को प्रचलित करते है जो पृथक भोजन रंगमंच के लेआउट को संदर्भित करता है. अन्य अमेरिकी रेस्तरां चेन अपने आहार-कक्ष के लिए प्रसिद्ध है जिसमें निम्नलिखित शामिल है गोल्डन कोरल, जिसमें खाद्य पदार्थ बर्तनों में प्रस्तुत किये जाते है, स्वीट टोमेटोज (जो विशेष रूप से इसके सूप और सलाद के लिए जाना जाता है ), गट्टी का पिज्जा, चक-ए-रामा, सिसी का पिज्जा, फ्रेश चोइस (स्वीट टोमेटोज का पश्चिम तट वाला प्रतियोगी), पान्चो का मैक्सिकन बुफ़े, शेके का पिज्ज़ा, फुर का फैमली डाइनिंग, और पोंदेरोसा स्टीकहॉउस. सिज्लर एक अन्य प्रमुख रेस्टोरेंट है जो आहार-कक्ष की सुविधा देता है.

ऑस्ट्रेलिया में सिज्लर जैसी आहार-कक्ष चेन एक बड़ी संख्या में संरक्षकों को कर्वेरी, समुद्री भोजन, सलाद और डेसर्ट के साथ खाना परोसती है. आहार-कक्ष ऑस्ट्रेलिया के रिटर्नड़ एंड सर्विसिज लीग (RSL) क्लब और कुछ मोटल रेस्तरां में भी आहार-कक्ष आम है.

रूस में, श्रृंखला मूमू (या रूस में माईमाई) अपना सभी खाना आहार-कक्ष शैली में परोसता है.[6]

ब्राजील में, कोमिदा ए कुइलो या कोमिदा पोर कुइलो - शाब्दिक रूप से "किलो में भोजन" - रेस्तरां आम हैं. यह एक कैफेटेरिया शैली का आहार-कक्ष है जिसमें खाना खाने वाले व्यक्ति चयनित थाली के वजन को छोड़कर भोजन के वजन के अनुसार बिल का भुगतान करते हैं. ब्राजील के भोजन की रोदिजियो शैली आल-यू-केन-ईट है जिसमें स्वयं सेवा और गैर स्वयं सेवा दोनों विभिन्नतायें सम्मिलित है.

जापान में आहार-कक्ष या स्मोर्गास्बोर्ड को वाइकिंग (バイキング- बैकिंगु) कहा जाता है. यह कहा जाता है कि इस शैली का जन्म टोक्यो के शाही होटल के "इंपीरियल वाइकिंग" रेस्तरां से हुआ है जो जापान आहार-कक्ष शैली में भोजन परोसने वाला पहला रेस्तरां था. डेसर्ट वाइकिंग्स जापान में बहुत लोकप्रिय है जहां पर व्यक्ति डेसर्ट से भरे आहार-कक्ष में खा सकते हैं.

संदर्भ[संपादित करें]

  1. [1]
  2. sv:Brännvinsbord
  3. स्मोर्गास्बोर्ड
  4. हाउ टू प्रिपेर एंड सर्व ए मिल, लिलियन बी लैंसडाउन द्वारा 1922 पुस्तक के प्रोजेक्ट गटेनबर्ग इटेक्स्ट
  5. पियर्सन, विलियम (1965). द म्युज़ेस ऑफ़ रुइन . मैकग्रॉ हिल.[page needed]
  6. मू-मू चैन, मॉस्को - रेस्टोरेंट - VirtualTourist.com

Buffet Table Setting Guidelines, http://www.divinedinnerparty.com/buffet-table-setting.html, अभिगमन तिथि: 2008-03-04 

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

Wiktionary-logo-en.png
आहार-कक्ष को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।
  • बुफे कार
  • खाद्य सुरक्षा
  • केटरिंग (खानपान)
  • स्मोर्गसबोर्ड