आटोट्रान्सफार्मर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

आटोट्रान्सफार्मर (Autotransformer) एक ऐसी संरचना वाला ट्रान्सफार्मर होता है जिसमें केवल एक ही वाइंडिंग होती है। एक ही वाइंडिंग का कुछ भाग प्राइमरी (इनपुट) का काम करता है और कुछ भाग द्वितियक वाइंडिंग (या आउटपुट) का काम करता है। अत: इस अकेली वाइंडिंग में कम से कम तीन विद्युतीय सिरे (टर्मिनल्स) होते हैं। इस तरह का ट्रान्सफार्मर समान केवीए रेटिंग से सामान्य ट्रान्सफार्मर की अपेक्षा आकार और वजन में छोटा होता है। किन्तु इसमें प्राइमरी और सेकेण्डरी के बीच आइसोलेशन नहीं मिलता जो कहीँ-कहीं अनिवार्य रूप से आवश्यक होती है।

क्रियाविधि (Operation)[संपादित करें]

एकल-फेजी आटोट्रान्सफार्मर जिसकी आउटपुट वोल्टता का रेंज इनपुट वोल्टता के 40%–115% है।