अम्बा तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अम्बा तारा
कृत्तिका तारागुच्छ में अम्बा सबसे रोशन तारा है

अम्बा या ऐलसायनी, जिसका बायर नामांकन एटा टाओरी (η Tau या η Tauri) है, वृष तारामंडल में स्थित एक तारा है। यह कृत्तिका तारागुच्छ का सब से रोशन तारा भी है और इसका पृथ्वी से देखा गया औसत सापेक्ष कांतिमान (यानि चमक) का मैग्निट्यूड +२.८७ है। कृत्तिका के अन्य तारों की तरह यह भी पृथ्वी से लगभग ३७० प्रकाश-वर्ष की दूरी पर स्थित है। हालाँकि यह बिना दूरबीन के एक ही तारा नज़र आता है वास्तव में यह कई तारों का मंडल है, जिसमें अभी तक एक मुख्य द्वितारा और तीन अन्य साथी तारे (यानि कुल मिलाकर पाँच तारे) ज्ञात हुए हैं।

अन्य भाषाओं में[संपादित करें]

अम्बा तारे को अंग्रेज़ी में "ऐलसायनी" (Alcyone) बुलाया जाता है।[1]

वर्णन[संपादित करें]

अम्बा मंडल का मुख्य तारा एक नीला-सफ़ेद B7 IIIe श्रेणी का दानव तारा है। इसकी अंदरूनी चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) हमारे सूरज की लगभग २,४०० गुना है। इसका व्यास (डायामीटर) हमारे सूरज के व्यास का क़रीब १० गुना और इसका द्रव्यमान (मास) सूरज के द्रव्यमान का ६ गुना है। इसका सतही तापमान लगभग १३,००० कैल्विन है। यह अपने अक्ष पर बहुत तेज़ी से (२१५ किलोमीटर प्रति सैकिंड की गति से) घूम रहा है जिस से गैस का एक विशाल चक्र इस से उखड़कर इसके इर्द-गिर्द इकठ्ठा हो गया है। यह मुख्य तारा एक द्वितारे में एक साथी तारे से गुरुत्वाकर्षक बंधन में है। इन दोनों तारों का एक-दूसरे से क़रीब उतना ही फ़ासला है जितना हमारे सौर मंडल में सूरज और बृहस्पति ग्रह का है।

इस द्वितारे के इर्द-गिर्द तीन अन्य साथी तारे परिक्रमा करते हैं। इनमें से दो - ऐलसायनी बी (Alcyone B) और ऐलसायनी सी (Alcyone C) - तो +८.०० मैग्निट्यूड वाले A श्रेणी के बौने तारे हैं। तीसरा, जिसका नाम ऐलसायनी डी (Alcyone D) है, एक पीला-सफ़ेद रंग का F श्रेणी का बौना तारा है। ऐलसायनी सी एक परिवर्ती तारा है और इसकी चमक ऊपर-नीचे होती रहती है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Tara Mata. "Astrological World Cycles". Lulu.com, 2008. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780615185002. http://books.google.com/books?id=Ixue8wTCoqgC. "... It was Amba, "The Mother" of the Hindus, and its present name of Alcyone was derived from a Greek word ..."