अमेज़न नदी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अमेजन नदी और उसका विस्तार

आमेजन या अमेजॉन या आमेजॉन (पुर्तगाली: Rio Amazonas; स्पेनी: Río Amazonas) दक्षिण अमेरिका से होकर बहने वाली एक नदी है। आयतन के हिसाब से यह विश्व की सबसे बड़ी नदी है और लम्बाई के हिसाब से दूसरी। यह ब्राजील, पेरु, बोलविया, कोलोंबिया तथआ इक्वेडोर से होकर बहती है। यह पेरु के एंडीज़ पर्वतमाला से निकलकर पूर्व की ओर बहती है और अटलांटिक महासागर में मिलती है। इसकी प्रवाह-घाटी विश्व में वृहत्तम है तथा इसमें जल की प्रवाह दर इसके बाद की आठ नदियों के योग से भी अधिक है। इस नदी पर पुल का अभाव है।

अमेज़न का महत्व[संपादित करें]

अमेज़न के वर्षावन दुनिया में सबसे बड़े हैं, इसका कुल क्षेत्रफल सत्तर लाख वर्ग किलोमीटर है जो पूरे दक्षिणी अमरीकी प्रायद्वीप का 40 प्रतिशत हिस्सा है। अमेज़न के जंगल धरती के पर्यावरण संतुलन में बेहद अहम भूमिका निभाते हैं इसलिए उसे 'धरती का फेफड़ा' कहा जाता है।

अमेज़न जैव विविधता का केंद्र है और यहाँ जीव-जंतुओं और वनस्पतियों के बेशुमार किस्में पाई जाती हैं। अमेज़न के वर्षावन से होकर बहने वाली 6,400 किलोमीटर लंबी अमेज़न नदी दुनिया की सबसे लंबी नदी है। दुनिया के समुद्रों में जितना मीठा पानी जाता है उसमें अमेज़न का योगदान 20 प्रतिशत है।

अमेज़न के किनारों पर नौ देशों के लगभग तीन करोड़ लोग बसते हैं। ये देश हैं-- ब्राज़ील, बोलिविया, पेरू, इक्वेडोर, कोलंबिया, वेनेज़ुएला, गयाना, फ्रेंच गयाना और सूरीनाम. अमेज़न के किनारे रहने वाली दो-तिहाई आबादी ब्राज़ील के लोगों की है।

अपवाह तन्त्र[संपादित करें]

सहायक नदियां[संपादित करें]

मुहाना[संपादित करें]