अमीलिया एरहार्ट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अमीलिया एरहार्ट

अमीलिया एरहार्ट 1935 में
जन्म 24 जुलाई 1897
एचिसन, केन्सास, अमेरिका
लापता जुलाई 2, 1937 (उम्र 39)
प्रशान्त महासागर
स्थिति अनुपस्थिति में मृत घोषित
जनवरी 5, 1939(1939-01-05) (उम्र 41)
राष्ट्रीयता अमेरिकी
जाने–जाते हैं अटलांटिक महासागर को वायु-यान द्वारा अकेले पार करने वाली पहली महिला
जीवनसाथी जॉर्ज पी॰ पटनेम

अमीलिया मैरी एरहार्ट (अंग्रेज़ी: Amelia Mary Earhart) (जुलाई 24, 1897 – लापता 1937) प्रसिद्ध अमेरिकी विमानचालक व लेखिका थीं। वह पहली महिला थीं जिन्हें सयुंक्त राज्य सशस्त्र सेना के डिस्टिंग्विश्ड फ्लाइंग क्रॉस से सम्मानित किया गया था, यह पदक अमीलिया को अटलांटिक महासागर अकेले पार करने के लिए दिया गया था। इन्होंने अन्य कई रिकॉर्ड भी बनाएँ थे, अपने उड़ान अनुभवों का वर्णन करने वाली सर्वश्रेष्ठ बिक्री वाली किताबें लिखीं, और महिला पायलटों के संगठन नाइंटी-नाइन की स्थापना में अहम भूमिका निभाई। 1935 में अमीलिया ने इंडियाना राज्य के पर्ड्यू विश्वविद्यालय के उड्डयन विभाग में अस्थायी शिक्षक बन कर महिला विद्यार्थियों को कैरियर के प्रति आधिवक्ता देने व विमानन के अपने प्रेम के द्वारा प्रेरणा देने का कार्य किया। वे नेशनल वुमेंस पार्टी की सदस्य थीं।

1937 में अपने पृथवी के परिनौसंचालन उड़ान के प्रयास के दौरान अमीलिया मध्य-प्रशान्त महासागर के ऊपर हॉवलैंड द्वीप के समीप विमान समेत गायब हो गईं। इनके बारे में अबतक कोई ख़बर नहीं है। इनका जीवन, कैरियर और इनका ग़ायब हो जाना अबतक आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. सलीम रिज़वी (30 अक्टूबर 2009). "मीरा नायर की नई फ़िल्म". न्यूयॉर्क: बीबीसी हिन्दी. http://www.bbc.co.uk/hindi/entertainment/2009/10/091029_amelia_psa.shtml. अभिगमन तिथि: 23 जुलाई 2012. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]