अनंत बंदर प्रमेय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अगर पर्याप्त समय दिया जाए तो कोई काल्पनिक बंदर यादृच्छिक तौर पर टाइप करते हुए विलियम शेक्सपियर के सम्पूर्ण कार्य का निर्माण कर सकता है। इस चित्र में एक चिंपांज़ी इस कार्य को अजांम देने की कोशिश कर रहा है।

अनंत बंदर प्रमेय के अनुसार अगर कोई बंदर अनंत काल के लिए टाइपराइटर कुँजीपटल की कुंजियाँ यादृच्छिक रूप से दबाता रहें तो वह दिये गये पाठ को लगभग निश्चित रूप से टाइप कर देगा, जैसे विलियम शेक्सपियर का पूरा काम।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]