अधिदेवता

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सेशात, जो प्राचीन मिस्र में ज्ञान और लिखाई की अधिदेवी थीं

अधिदेवता या अधिदेवी ऐसे देवता या देवी को कहते हैं। जो किसी स्थान, परिवार, गाँव, शहर, व्यक्ति, राष्ट्र, व्यवसाय या अन्य चीज़ का रक्षक होने के लिए विशेष मान्यता रखता हो। उदाहरण के लिए हिन्दू धर्म में ज्ञान की अधिदेवी सरस्वती हैं।

अन्य भाषाओँ में[संपादित करें]

अंग्रेज़ी में अधिदेवता या अधिदेवी को 'ट्यूटेलरी' (tutelary) कहा जाता है।[1]

हिन्दू धर्म में[संपादित करें]

हिन्दू धर्म में कई प्रकार के अधिदेव हुआ करते हैं। गाँवों के अधिदेवों को 'ग्राम देवता' भी कहा जाता है। परिवारों के अधिदेवों को 'कुलदेवता' और 'इष्टदेवता' कहा जाता है। किसी प्रान्त या समुदाय के देवता को 'लोकदेवता' कहा जाता है।

प्राचीन रोम में[संपादित करें]

प्राचीन रोम की सभ्यता में अधिदेव हुआ करते थे। मसलन लानूवियम (Lanuvium) शहर की कुलदेवी जूनो (Juno) थीं।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. A Dictionary, Sanskrit and English: Together with a Supplement, Grammatical Appendices and Index, Serving as an English-Sanskrit Vocabulary, Horace H. Wilson, Theodor Goldstücker, pp. 55, Asher, 1864, ... अधिदेवता ... A tutelary or presiding divinity ...
  2. A Critical History of Early Rome: From Prehistory to the First Punic War, Gary Forsythe, University of California Press, 2006, ISBN 978-0-520-24991-2, ... Juno was the goddess of youthful vigor and maturation ... She was likewise the tutelary deity of the Latin town of Lanuvium and the Etruscan city of Veii ...