अंतर्वाह (जलविज्ञान)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जलविज्ञान के संदर्भ में, किसी जलनिकाय में जल का अंतर्वाह या अंत:प्रवाह उस निकाय के जल का स्रोत है। इसे किसी नियत समय या समय इकाई के दौरान जलनिकाय में आने वाले जल की औसत मात्रा (आयतन) के रूप में भी संदर्भित किया जा सकता है। यह बहिर्वाह का विपरीत है।

सभी जलनिकायों में अंतर्वाह के एकाधिक स्रोत होते हैं, लेकिन अक्सर, कोई एक प्रवाह स्रोत अन्य स्रोतों की अपेक्षा अधिक प्रबल होता है, हालाँकि कई मामलों में, कोई एक विशेष प्रवाह स्रोत प्रबल ना होकर कई स्रोत प्रबल होते हैं। किसी झील के लिए, अंतर्वाह का स्रोत एक नदी या जलधारा हो सकती है जो इसी झील मे गिरती हो। अंतर्वाह का एक अन्य स्रोत वर्षण जैसे कि वर्षा भी हो सकता है।

संदर्भ[संपादित करें]